Mahakali ki Aarti -श्री महाकाली आरती

0
Advertisement

Mahakali ki Aarti -श्री महाकाली आरती

http://educratsweb.com/users/images/3842-contents.jpg

मंगल की सेवा सुन मेरी देवा ,

हाथ जोड़ तेरे द्वार खड़े।

Advertisement

 

पान सुपारी ध्वजा नारियल

ले ज्वाला तेरी भेंट करें।

 

सुन जगदम्बे कर न विलम्बे,

संतन के भडांर भरे।

 

सन्तान प्रतिपाली सदा खुशहाली,

जै काली कल्याण करे ।

 

बुद्धि विधाता तू जग माता ,

मेरा कारज सिद्ध करे।

 

चरण कमल का लिया आसरा,

शरण तुम्हारी आन पड़े।

 

जब जब भीर पड़ी भक्तन पर,

तब तब आय सहाय करे।

 

बार बार तै सब जग मोहयो,

तरूणी रूप अनूप धरे।

 

माता होकर पुत्र खिलावे,

कही भार्या भोग करे॥

 

संतन सुखदायी,सदा सहाई ,
Visit http://educratsweb.com/1037-content.htm


#Mahakali #Aarti #शर #महकल #आरत

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here